BDO कैसे बनें ? (प्रखंड विकास पदाधिकारी कैसे बनें बनने की प्रक्रिया ) 

BDO कैसे बनें ? (प्रखंड विकास पदाधिकारी कैसे बनें बनने की प्रक्रिया )


BDO ऑफिसर कैसे बनें (bdo kaise bane ) या प्रखंड विकास पदाधिकारी कैसे बनें ? 


क्या आपका सपना BDO बनने का हैं और इससे जुड़ी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पढ़ रहे हैं । दोस्तों बीडीओ बनने की सही जानकारी होना बहुत ही जरूरी हैं ताकि आप सही दिशा में अपनी सारी एनर्जी और समय का उपयोग कर सके आज के इस करियर गाइड पोस्ट में हम जानेंगे की BDO kaise बने (बीडीओ कैसे बनें ) और प्रखंड विकास पदाधिकारी कैसे बनें , बीडीओ बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता , उम्र और सिलेक्शन प्रक्रिया के बारे में ।


हम ये भी जानेंगे की बीडीओ बनने के लिए क्या क्या पढ़ना चाहिए और बीडीओ बनने के लिए तैयारी कैसे करें (BDO exam Tips in hindi ) जिससे आप बीडीओ परीक्षा को पास कर सके और बीडीओ बनने के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती हैं ।


BDO आफिसर क्या होता हैं? (what is bdo in hindi ? ) 

 

ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर जिसे हम शॉर्ट में बीडीओ कहते हैं और हिंदी में प्रखंड विकास पदाधिकारी । 


एक बीडीओ किसी भी प्रखंड के विकास के लिए जिम्मेदार होता हैं । बीडीओ अपने ब्लॉक में सभी प्रकार के योजनाओं तथा विकास से सम्बन्धित कार्यक्रम की निगरानी करता हैं जिससे प्रखंड का विकास हो सके । यानी प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रखंड के विकास के लिए काम करता हैं। और अपने प्रखंड के सभी ग्रामों के विकास की जिम्मेदारी एक बीडीओ के कंधे पर होता हैं । बीडीओ सभी प्रकार के सरकारी योजना के राशि को अपने देख रेख में प्रखंड के विकास के खर्च करते हैं।


इसके अलावे अन्य योजना जैसे विकलांक पेंशन , वृद्ध पेंशन , विधवा पेंशन, मनरेगा , नरेगा इत्यादि का भी कार्यभार बीडीओ के कंधे पर होता हैं ।


दोस्तों ऑफिसर बनने के लिए कुछ योग्यता होनी चाहिए और परीक्षा से भी गुजारना पड़ता है जिसकी जानकारी होना बहुत ही जरूरी हैं। 


बीडीओ बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Eligibility Of BDO ) :

दोस्तों बीडीओ बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता की बात करे तो किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक (ग्रेजुएट )या पारा स्नातक (पोस्ट ग्रेजुएट ) पास होना जरूरी हैं। 


बीडीओ बनने के लिए आयु सीमा (Age Limit of BDO officer ):

प्रखंड विकास पदाधिकारी बनने के लिए सामान्य वर्ग के आयु सीमा 21 से 40 साल के बीच होना चाहिए । और OBC वर्ग के लिय 21 से 43 साल की बीच होना चाहिए वही एससी/एसटी वर्ग के लिए 21 से 45 साल की बीच उम्र सीमा होना चाहिए। 


अगर आपके पास शैक्षणिक योग्यता और आयु सीमा हैं तभी आप बीडीओ बनने के लिए आवेदन कर सकते ।


बीडीओ बनने के लिए एग्जाम प्रक्रिया (BDO परीक्षा ) :

दोस्तों बीडीओ बनने के राज्य लोक सेवा आयोग ( State Public Service Commission "example बिहार के लिए BPSC ") द्वारा ली जाने वाली परीक्षा को पास करना होता हैं । जो मुख्यत : तीन चरणों में पूरा होता है । सबसे पहले प्रारंभिक फिर मुख्य और अंत में साक्षात्कार इन तीनो परीक्षा को पास करने के बाद आप एक बीडीओ बन जाते हैं (BDO Ban Jate hai ) ।


तो चलिए BDO परीक्षा के बारे में विस्तार से जानते हैं।

BDO exam syllabus

प्रारंभिक परीक्षा :

प्रारंभिक परीक्षा जिसे प्रीलिम्स भी कहा जाता हैं इस परीक्षा में 2 पेपर होते हैं पहला सामान्य अध्ययन और दूसरा CSAT (सिविल सर्विस एपिटीट्यूट टेस्ट ) 


पेपर 1 सामान्य अध्ययन :

सामान्य विज्ञान,भारतीय राजनीति और प्रशासन _ सार्वजनिक नीति, आधिकारिक मुद्दे,राजनीतिक प्रणाली, संगठन, पंचायती राज आदि से जुड़ी संबंधी प्रश्न,राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं के बारें में

पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन पर सामान्य मुद्दे,भारतीय इतिहास और राष्ट्रीय आंदोलन के बारें में,भारत और विश्व भूगोल के अंतर्गत भारत की सामाजिक, आर्थिक, भौतिक, भूगोल म्बंधित प्रश्न,राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं के बारें में,


पेपर 2 CSAT 

इस परीक्षा में 10th स्तर के गणित, english, , समस्या सुलझाने जैसे प्रश्न, और निर्णय लेने संबंधी प्रश्न पूछे जाते हैं ।


मुख्य परीक्षा ( Mains Exam )

मुख्य परीक्षा में बैठने के लिए प्रीलिम्स पास होना चाहिए । इस परीक्षा में 6 पेपर होते हैं और यह परीक्षा लिखित होता हैं यानी पेन और पेपर 


इंटरव्यू या साक्षात्कार :

दोस्तों प्रीलिम्स और मैंस पास होने वाले उम्मीदवार को इंटरव्यू में बुलाया जाता हैं । इंटरव्यू 100 अंक का होता है । जहां उम्मीदवार को निर्णय लेने संबंधी मानसिक प्रश्न पूछे जाते है । प्रीलिम्स , मुख्य और इंटव्यू पास होने वाले एक अंक के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाए जाते हैं और मेरिट लिस्ट के आधार पर चयन होता हैं ।


बीडीओ को सैलरी कितना मिलता हैं 


बीडीओ बनने के बाद सैलरी 9300 से लेकर 38000 तक मिलता हैं साथ ही सैलरी के साथ कई अन्य सुविधाएं फ्री में मिलता हैं।


BDO ऑफिसर के कार्य (Work Profile of BDO officer ) :

एक बीडीओ का काम होता हैं की प्रखंड/ ब्लॉक में सरकारी योजना का सही से सभी के पास लाभ पहुंचाना । ऑथोरिटी और दूसरे अधिकारी द्वारा अप्रूव किए गए योजना और कार्यकर्मों का सही से सभी तक पहुंचना ।


• अपने प्रखंड के विकास कार्यों की देख रेखा करना 


• जिला प्रशासन, ग्राम प्रधान , मुखिया, एमएलए , मंत्री, और स्टेट गवर्नमेंट के निर्देश पर बीडीओ काम करते हैं ।


• अगर किसी भी प्रकार के समस्या ही तो बीडीओ को लेटर लिख सकते है बीडीओ उस पर कार्रवाई जरूर करेंगे ।


तो इस प्रकार से एक बीडीओ अपने यह विकास करता हैं और बीडीओ पोस्ट बहुर्वही जिम्मेदारी वाला पोस्ट होता हैं । अब हम बीडीओ बनने के लिए पढ़ाई कैसे करे जानेंगे।


बीडीओ की पढ़ाई कैसे करे (BDO exam kaise creck kare )


सबसे पहले तो बीडीओ बनने के लिए जॉब नोटिफिकेशन को अच्छे से पढ़े ये नोटिफिकेशन स्टेट गवर्नमेंट के स्टेट पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा जारी किया जाता हैं जिससे की एग्जाम के सिलेबस और विषयों के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएं । मैं ऐसा इसीलिए कह रहा हु की समय समय पर सिलेबस में बदलाव किए जाते हैं ।


सिलेबस पर पकड़ बनाए और सिलेबस के अनुसार पढ़ाई करे 


सिलेबस में बताए गए सभी अध्यायों को बराबर अहमियत दे इसके लिए कोचिंग की मदद ले सकते हैं।


प्रीलिम्स के लिए current अफेयर्स और नेशनल इंटरनेशनल इवेंट पर भी ध्यान दे । मैंस के लिए कम से कम रेगुलर 10 क्वेश्चन को लिखने की प्रैक्टिस करें। साथ ही इंटरव्यू के लिए भी अपने आप को तैयार करें।


अपने तैयारी के समय हमेशा समय सीमा को ध्यान में रख कर तैयार करे । बीडीओ बनने के लिए प्रीवियस इयर पेपर को पढ़े और उससे जानने की कोशिश करे की किस चेप्टर से ज्यादा सवाल पूछे जाते हैं ।


दोस्तों हमने इस पोस्ट में बीडीओ कैसे बने के बारे में पूरी जानकारी दी ये पोस्ट पसंद आई तो इसे अपन दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि उसे भी इस करियर ऑप्शन के बार में पूरी जानकारी मिल सकते हैं और अगर हमारी मेहनत पसंद आई तो हम कॉमेंट में या हमारी सोशल मीडिया प्रोफाइल में जरूर लिखें ।

धन्यवाद....



Post a Comment

Don't Share personal information..
अपना सवाल पूछे...

Previous Post Next Post