जीएसटी सलाहकार कैसे बनें ? ( Gst Salahakar kaise bane ? )

दोस्तों सबसे पहले आप जान ले की जीएसटी सलाहकार या जीएसटी प्रैक्टिशनर या जीएसटी कंसल्ट (GST Consault ) तीनो एक ही व्यक्ति को कहा जाता हैं ...


दोस्तों हम सभी जब भी किसी व्यापार को सुरु करते हैं या सामान या सेवा का व्यापार करते हैं तो हमें जीएसटी देना होता हैं । क्योंकि जीएसटी भारत में एक अप्रत्यक्ष टैक्स कानून हैं। इससे जुड़ी सभी काम की जानकारी जैसे रजिस्ट्रेशन, फाइल करना इत्यादि जानना बहुत जरूरी है और इसी काम को आसान करने में एक जीएसटी सलाहकार या GST Consualt आपकी मदद करता है। 


तो आज के इस करियर गाइड में जानेंगे की जीएसटी सलाहकार कैसे बनें (gst salahakar kaise bane ) या GST Consualt kaise bane , ) साथ ही जीएसटी सलाहकार बनने के लिए योग्यता और परीक्षा के बारे में पूरी जानकारी देंगे।...


जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए सबसे पहले आपके पास बेसिक योग्यता फिर शैक्षणिक योग्यता होना जरूरी हैं उसके बाद ही आप जीएसटी प्रैक्टिशनर परीक्षा में सामिल होने के लिए आवेदन कर सकते हैं । और जीएसटी प्रैक्टिशनर एग्जाम पास करने के बाद आप एक रजिस्टर्ड जीएसटी सलाहकार या जीएसटी कंसल्ट या जीएसटी प्राक्टिशर बन जाते हैं तो इस अध्याय में हम पूरे विस्तार से जानेंगे की जीएसटी प्रैक्टिशनर कैसे बने और इसके परीक्षा के बारे में...



जीएसटी सलाहकार कैसे (GST Consualt kaise bane ) ?

जीएसटी सलाहकार (GST Consualt ) क्या होता हैं ?


एक जीएसटी सलाहकार वह व्यक्ति होता हैं जो जीएसटी से जुड़े सभी काम को करना जानता हो। और भारत सरकार के GSTM पोर्टल पर पंजीकृत हो साथ ही उसके पास प्रमाणिकता भी हों। 


Gst Consualt या GST सलाहकार क्या करता है ?

एक जीएसटी सलाहकार का सबसे पहले अपने क्लाइंट का पंजीकरण करता है। इनवार्ड और आउटवार्ड सप्लाई की डिटेल रखना ।

क्लाइंट के annual , monthly और quarterly return फाइल करना । अपने क्लाइंट के रिफंड को अप्लाई करना ।


अगर आपको gst सलाहकार के काम समझ न आया तो मोटो तौर पर बता दु की जीएसटी सलाहकार किसी भी व्यवसाय में सेवा या वस्तु के टैक्स से जुड़े जानकारी और हिसाब किताब रखता है।


जीएसटी सलाहकार कैसे बनें (GST Salahakar kaise bane )


जीएसटी सलाहकार बनने के लिए योग्यता :

• भारतीय होना चाहिए।

• एक वैध पैन कार्ड, email पता , और मोबाइल नंबर होना चाहिए 


• व्यक्ति को कभी भी दिवालिया नही होना चाहिए।

• उसके ऊपर अपराध या 2 साल से अधिक जेल नही होना चाहिए। साथ ही कानूनी रूप से अपराधी नहीं हो ।


अगर ऊपर के योग्यता आपके पास है तो आप जीएसटी सलाहकार बनने के लिए अप्लाई कर सकते हैं।


जीएसटी सलाहकार बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता :

दोस्तों ऊपर हमने बेसिक योग्यता के बारे में बात करा जो की किसी भी जीएसटी सलाहकार बनने वाले के पास होना जरूरी हैं लेकिन इसके साथ कुछ शैक्षणिक योग्यता भी होना चाहिए ताकि आप जीएसटी सलाहकार बनने के लिए शैक्षणिक रूप से तैयार हो सके ।


1.जो व्यक्ति वाणिज्य विभाग में 2 साल तक राजपत्रित अधिकारी के रूप में काम किया हो वो जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए अप्लाई कर सकते है। 


जीएसटी प्रैक्टिशनर कैसे बनें :


2. या फिर टैक्स रिटर्न प्रिपेयर या सेल्स टैक्स प्रैक्टिशनर के रूप में कम से कम 5 साल का अनुभव हो तो जीएसटी सलाहकार के लिए आवेदन कर सकते ।


3. या, किसी भी भारतीय या विदेशी यूनिवर्सिटी से लॉ , बैंकिंग, या फिर कॉमर्स में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट होना चाहिए।


4. या, CA फाइनल , कास्ट अकाउंटेंट फाइनल, या कंपनी सेक्रेटरी फाइनल स्टूडेंट भी gst consault के लिए अप्लाई कर सकते है ।


यहां तक हमने आपकी GST Consault या जीएसटी सलाहकार क्या होता हैं । Gst सलाहकार के काम और जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के योग्यता के बारे में विस्तार से बताया अब हम जानेंगे की जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए कहा से अप्लाई करे और प्रमाण पत्र और जीएसटी प्रैक्टिशनर एग्जाम के बारे में 


जीएसटी प्रैक्टिशनर परीक्षा के लिए रजिस्टर्ड कैसे करें 

अगर आपके पास ऊपर बताए गए योग्यता है तो आप gst प्रैक्टिशनर परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते। इसके लिए सबसे पहले जीएसटी की ऑफिशियल वेबसाइट (gst.gov.in/ ) पर जाएं वेबसाइट पर सर्विस चुने और खुद को न्यू रजिस्ट्रेशन में "i am a चुन कर Gst Practitioner नाम का ऑप्शन चुने और पूरे फॉर्म को सही से फिल अप करे..जिसके बाद आपको TRN नंबर मिलेंगे और इस trn नंबर को ओटीपी के साथ लोगिन कर डॉक्यूमेंट अपलोड कर फीस का भुगतान करे । जिसके बाद आप सक्सेसफुली रेगस्टार्ड हों जायेगे और आगे की जानकारी आपके प्रोफाइल में दिखेगी जैसे एग्जाम डेट 



जीएसटी प्रैक्टिशनर एग्जाम क्या है ?

भारत में जो भी व्यक्ति जीएसटी सलाहकार बनना चाहता हैं उसे यह एग्जाम पास करना होता हैं जिसके बाद उसे प्रमाण पत्र मिलता हैं यह परीक्षा "द नेशनल एकेडमी ऑफ कस्टम्स एंड इनडायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम्स यानी NACIN द्वारा आयोजित किया जाता हैं ।


NACIN के पूरे देश में परीक्षा केंद्र हैं जहां पूरे साल में 2 बार परीक्षा आयोजित किया जाता हैं जिसकी जानकारी Nacin द्वारा GST पोर्टल पर अपलोड किया जाता हैं।


nacin.onlineregistrationform.org वेबसाइट पर परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं परीक्षा फीस 500 रूपये हैं जो नामांकन के समय देना होगा । जिसके बाद आपको आपका यूजर नेम और पासवर्ड मिलेगा । इस यूजर इंटरफेस और पासवर्ड से लॉगिन कर सकते है।

परीक्षा कम्प्यूटर आधारित ऑनलाइन होता हैं जिसमे मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन होते हैं । परीक्षा परिणाम एनएसीआईएन वेबसाइट द्वारा घोषित किया जाता हैं जिसकी जानकारी परीक्षा के 1 महीने के अंदर ही ईमेल या डाक पोस्ट द्वारा भेज दिया जाता हैं।

परीक्षा को पास करने के लिए कम से कम 50% अंक चाहिए । परीक्षा में सामिल होने के लिए प्रयासों की कोई सीमा नहीं है ।


जीएसटी प्रैक्टिशनर परीक्षा सिलेबस :

किसी भी परिकहावमे अच्छे अंक से पास करने के लिए परीक्षा सिलेबस को जानना बहुत ही जरूरी है । जीएसटी प्रैक्टिशनर परीक्षा सिलेबस निम्न है ।


• 2017 के केंद्र शासित प्रदेश माल और सेवा कर अधिनियम,

• 2017 केंद्रीय वस्तु एवम् सेवा अधिनियम

• 2017 राज्य विशिष्ट माल और सेवा अधिनियम

• 2017 सेंट्रल गॉड्स एंड सर्विस टैक्स रूल्स 

• एकीकृत माल और सेवा कर नियम,

• , एकीकृत माल और सेवा ,माल और सेवा कर अधिनियम 2017


तो इस प्रकार परीक्षा पास करने के बाद जीएसटी पोर्टल पर खुद को एक कानूनी रूप से जीएसटी सलाहकार या जीएसटी प्रैक्टिशनर रजिस्टर्ड कर सकते और खुद का कार्यालय खोल सकते हैं जहा से ऑनलाइन या ऑफलाइन अपनी सेवा दे कर पैसे कमा सकते या फिर एक जीएसटी सलाहकार के रूप में जॉब कर सकते हैं ।....आप हमे जरूर लिखे की हमारी मेहनत आपको कैसा लगा ...




Post a Comment

Don't Share personal information..
अपना सवाल पूछे...

Previous Post Next Post